टूटी हड्डी जोड़ने में कितना समय लगता है – tuti haddi jodne main Kitna samay lagta hai

जब किसी एक्सीडेंट के दौरान हमारे शरीर की कोई हड्डी टूट जाती है तो फिर काफी समस्या शुरू हो जाती है। क्योंकि टूटे हुए अंग से आप कोई काम नहीं कर सकते हैं। इसीलिए ऐसे समय में हमारे मन में यह सवाल आता है कि टूटी हड्डी जोड़ने में कितना समय लगता है – tuti haddi jodne main Kitna samay lagta hai । यदि आपके मन में भी यह सवाल आ रहा है कि टूटी हड्डी जोड़ने में कितना समय लगता है – tuti haddi jodne main Kitna samay lagta hai तो यह आर्टिकल आपके बहुत ही काम आ सकता है।

क्योंकि इस आर्टिकल में हम आपको टूटी हड्डी जोड़ने के उपाय, टूटी हड्डी जोड़ने के लिए क्या खाना चाहिए, टूटी हड्डी जोड़ने वाला पौधा, टूटी हड्डी जोड़ने वाला तेल, प्लास्टर काटने के बाद क्या करें और टूटी हड्डी जोड़ने की होम्योपैथिक दवा के बारे में जानकारी देंगे ।

टूटी हड्डी जोड़ने में कितना समय लगता है

टूटी हड्डी जोड़ने में कितना समय लगता है? – tuti haddi jodne main Kitna samay lagta hai

बहुत सारे लोगों का यह सवाल होता है कि टूटी हड्डी जोड़ने में कितना समय लगता है – tuti haddi jodne main Kitna samay lagta hai आपकी जानकारी के लिए बता दें कि टूटी हड्डी को जोड़ने में 2 महीने के लगभग का समय लग जाता है। लेकिन आजकल ऐसी दवाओं की खोज की जा चुकी है, जिससे आप की हड्डियां 14 दिनों में जुड़ सकती हैं।

लेकिन यदि आपके शरीर की कोई हड्डी टूट चुकी है तो उसे पूरी तरह से मजबूत बनाने में कई सारी सावधानियां बरतनी पड़ती हैं और साथ ही साथ अपने खानपान पर भी विशेष ध्यान देना होता है। नीचे हम आपको टूटी हड्डी जोड़ने के उपाय बताएंगे और साथ ही साथ इस से संबंधित कई और प्रकार की भी जानकारी देंगे।टूटी हड्डी जोड़ने के उपाय:यदि आप टूटी हड्डी जोड़ने के उपाय जानना चाहते हैं तो इसके बारे में संक्षिप्त जानकारी नीचे बताई गई है। अपनी टूटी हड्डी को जोड़ने के लिए नीचे बताए गए उपाय को अपनाएं।

1. टूटी हड्डी वाले जगह को स्थिर रखें:

यदि आपके शरीर की कोई हड्डी टूट गई है तो उस जगह को स्थिर रखने का प्रयास करें। यदि आपके शरीर में किसी नाजुक जगह पर फैक्चर है तो उसे बिल्कुल भी न हिलाएँ-डुलाएँ। हाथों या पैरों में फ्रैक्चर होने की स्थिति में उसके नीचे तकिया लगा दें और आराम करें। इस तरह से आपके शरीर की हड्डी जल्द से जल्द जुड़ सकती है। अन्यथा अधिक हिलाने डुलाने से हड्डियां टेढ़ी जुड़ सकती हैं। इसके बाद आपको ऑपरेशन के द्वारा इसे सीधा करवाना पड़ेगा और कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ जाएगा।

2. प्लास्टर बंधवाएँ:

यदि आपके हाथ या पैर की हड्डी टूट गई है तो तुरंत डॉक्टर से परामर्श लें और उस पर प्लास्टर बंधवाएं। इसके साथ ही साथ प्लास्टर बनवाने से पहले अपने शरीर के अन्य अंगों का एक्स-रे कराना बिल्कुल ना भूलें। क्योंकि यदि आपको किसी एक्सीडेंट में कोई चोट लगी है तो आपके शरीर के किसी दूसरे अंग में भी फ्रैक्चर हो सकता है।

3. देशी घी का सेवन करें:

प्रतिदिन दो बार 2 चम्मच देसी घी, एक चम्मच गुड़ और एक चम्मच हल्दी को एक कप पानी में मिलाकर उसे उबाल लें और फिर से उसे ठंडा करके पिएँ। यह आपके टूटी हुई हड्डियों को जोड़ने में काफी मदद करता है।

4. प्याज और हल्दी को मिलाकर लगाएँ:

यदि आपके टूटी हुई हड्डी वाले जगह पर प्लास्टर नहीं बांधा गया है तो आप एक प्याज को पीसकर और उसमें एक चम्मच हल्दी मिलाकर साफ कपड़े से बांध दें। फिर कपड़े को तिल के तेल में गर्म करके टूटी हुई हड्डी वाले जगह पर अच्छे से सिंकाई कर दें। यदि आप प्रतिदिन दो बार इस प्रक्रिया का अनुसरण करते हैं तो आपको टूटी हुई हड्डी वाले जगह पर आराम भी मिलेगा और साथ ही साथ हड्डियां भी जल्द से जल्द जुड़ेंगी।

5. काली मिर्च का सेवन करें:

टूटी हड्डियों को जोड़ने के लिए पीसी काली मिर्च और कार रंगाबोटी का रस मिक्स करके दिन में तीन चार बार पीने से काफी आराम मिलता है। यह आपके टूटी हुई हड्डियों को जल्द से जल्द जोड़ने में मदद करता है।

टूटी हड्डी जोड़ने के लिए क्या खाना चाहिए?

बहुत सारे लोगों का यह सवाल होता है कि टूटी हड्डी जोड़ने के लिए क्या खाना चाहिए? ऐसा इसलिए क्योंकि टूटी हुई हड्डियों को जल्द से जल्द जुड़ने के लिए अच्छा खानपान होना बहुत ही जरूरी होता है। इसके लिए आप कैल्शियम से भरपूर जैसे समुद्री सब्जियों और हरी पत्तेदार सब्जियों इत्यादि का सेवन कर सकते हैं। इतना ही नहीं आप सालमन, सार्डिन, और डेयरी उत्पाद जैसे दही, केफिर आदि का सेवन करके अपने हड्डियों में मजबूती ला सकते हैं।

इसके अलावा विटामिन K युक्त आहार भी हड्डियों के विकास के लिए बहुत ही जरूरी होता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि विटामिन K रक्त के थक्कों और हड्डी को मजबूती दिलाने के लिए काफी जरूरी होता है। इसके लिए आप ब्रोकोली, पालक और अन्य हरी सब्जियों का सेवन कर सकते हैं। इतना ही नहीं हड्डियों के विकास के लिए शरीर को विटामिन D और C मिलना भी आवश्यक है।

टूटी हड्डी जोड़ने वाला पौधा कौन सा है?

आप मुझसे बहुत ही कम लोग यह जानते होंगे कि टूटी हड्डी जोड़ने के लिए एक पौधा भी इस्तेमाल में लाया जाता है, जिससे टूटी हड्डी वाले जगह पर बांधना होता है। लेकिन इसके लिए आपको किसी योग्य वैद्य से परामर्श जरूर लेना चाहिए। दरअसल टूटी हड्डी जोड़ने वाले पौधे का नाम हड़जोड़ होता है। पहले के समय में जब हमारे देश में चिकित्सा की सुविधा इतनी प्रबल नहीं थी तो टूटी हड्डियों को जोड़ने के लिए हड़जोड़ पौधे का इस्तेमाल किया जाता था।

टूटी हड्डी जोड़ने वाले तेल:

टूटी हड्डियों को जोड़ने के लिए आप अलग-अलग प्रकार के तेल भी इस्तेमाल कर सकते हैं। नीचे हम आपको टूटी हड्डियों को जोड़ने में मददगार कुछ तेलों के बारे में बताने जा रहे हैं।

1. पुदीने का तेल:

यदि आपके शरीर की कोई हड्डी टूट गई है तो उसमें काफी दर्द होता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मांसपेशियों के दर्द से छुटकारा पाने के लिए पुदीने का तेल काफी कारगर साबित होता है। क्योंकि इसमें पाया जाने वाला ठंडक प्रभाव आपके त्वचा में अच्छी तरह से अवशोषित होकर दर्द को दूर करने में मदद करता है।

इसके साथ ही साथ पुदीने के तेल में एंटी बैक्टीरियल और एनाल्जेसिक गुण पाए जाते हैं जो हड्डियों को जोड़ने में काफी मदद करते हैं। यदि आप टूटी हुई हड्डियों वाली जगह पर पुदीने के तेल से मसाज करते हैं तो यह उसे जोड़ने में काफी मदद करता है। इसके अलावा उस जगह पर रक्त संचार भी बेहतर तरीके से हो पाता है।

2. लेवेंडर ऑयल:

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लेवेंडर ऑइल में एंटी इन्फ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक के गुण पाए जाते हैं। यदि आपको तनाव और इंजाइटी की शिकायत है तो भी यह तेल बहुत ही काम आ सकता है। यदि आपके शरीर की कोई हड्डी फ्रैक्चर हो चुकी है तो उस जगह पर लेवेंडर आयल से मालिश करना आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। लेवेंडर आयल में नारियल का तेल या ऑलिव आयल का तेल मिलाकर मसाज करने से और भी अधिक फायदा मिलता है।

3. लौंग का तेल (क्लोव ऑयल):

आपने से बहुत सारे लोग मसूड़ों एवं दांत के दर्द से राहत पाने के लिए लौंग के तेल का इस्तेमाल करते होंगे। ठीक इसी तरह यह हड्डी के टूटने पर होने वाले दर्द और सूजन से राहत दिलाने में मदद करता है। लौंग के तेल को आप किसी भी प्रकार के तेल में मिलाकर उसे टूटी हुई हड्डी वाली जगह पर हल्के हाथों से मसाज करें। यह आपकी हड्डियों को मजबूती दिलाने और वहां पर होने वाले दर्द से मुक्ति दिलाने में मदद करता है।

प्लास्टर काटने के बाद क्या करें?

प्लास्टर काटने के बाद नीचे बताए गए तरीकों को हमेशा ध्यान में रखें:

यदि आपके हाथ में फ्रैक्चर होने की वजह से प्लास्टर लगाना पड़ा है तो प्लास्टर काटने के बाद भी कुछ दिनों तक अपने हाथ को ऊंचा रखें और हाथ की अंगुलियां चलाते रहें। इसके अलावा कोसे पानी में हाथ डालकर व्यायाम करना आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प हो सकता है। इतना ही नहीं रक्त संचार को बेहतर बनाने के लिए और हड्डियों को नरम बनाने के लिए किसी नरम गेंद को अपनी उंगलियों से दबाते रहें।

कंधे और कोहनी का व्यायाम करना भी आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। यदि आप नियमित व्यायाम करते हैं और फिजियोथेरेपिस्ट से लगातार सलाह लेते हैं तो आपको आगे चलकर किसी भी प्रकार की कोई समस्या नहीं आएगी। क्योंकि अधिक दिनों तक प्लास्टर लगने की वजह से हाथ की उंगलियां अकड़ जाती हैं जिसे मुलायम करने के लिए लगातार व्यायाम करने की आवश्यकता पड़ती है।

टूटी हड्डी जोड़ने की होम्योपैथिक दवा:

यदि आप टूटी हड्डी जोड़ने की होम्योपैथिक दवा लेना चाहते हैं तो इसके लिए Symphytum Officinale Mother Tincture नामक दवा बहुत ही कारगर है। यह दवा आपकी हड्डियों को जल्द से जल्द जोड़ने में मदद करती है क्योंकि यह हड्डियों के बीच के मज्जे को बनाने का काम करती है। इसके अलावा यह दवा दर्द को कम करने के साथ-साथ सूजन को भी कम करता है।

इस दवा से लाभ पाने के लिए आपको आधे गिलास पानी में 20 बूंद दवा डालकर दिन में तीन बार सेवन करना पड़ता है। इसके अलावा AT Tabs SBL, Hypericum Perforatum, Ledum Palustre, Rhus Toxicodendron, इत्यादि होम्योपैथिक दवाएँ भी बहुत लाभदायक हैं।

निष्कर्ष –

दोस्तो आज के इस आर्टिकल में हमने आप को टूटी हड्डी जोड़ने में कितना समय लगता है – tuti haddi jodne main Kitna samay lagta hai इसके बारे में बताया हैं । इसके अलावा भी दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने आप को टूटी हड्डी को जोड़ने से संबंधित अन्य कई सारी जानकारी विस्तार से बताई है ।

तो दोस्तों अगर आपको ये इनफार्मेशन अची लगी है तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों में शेयर करे और इस आर्टिकल को लाइक करे अछि रेटिंग दे तथा निचे कमेंट बॉक्स में क्यूमेंट करे और बताये आपको ये इनफार्मेशन कैसी लगी,तो मिलते अगले ऐसे हे महत्वपुर्ण informative आर्टिकल के साथ तब तक के लिए… धन्यवाद् !!!

Leave a Reply

Your email address will not be published.