रचना के आधार पर वाक्य के कितने भेद होते हैं – rachna ke aadhar par vakya ke kitne bhed hote hain

हैलो दोस्तो कैसे हो आप सब लोग , में आशा करता हूं कि आप सभी लोग कुशल होंगे । आज के इस आर्टिकल में आप को वाक्य के बारे में बताऊंगा । आज के इस आर्टिकल में हम बताएंगे कि रचना के आधार पर वाक्य के कितने भेद होते हैं – rachna ke aadhar par vakya ke kitne bhed hote hain । अगर आप भी वाक्य के बारे में और अधिक जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को पूरा पड़े ।

दोस्तो आज के इस आर्टिकल में आप को हम वाक्य के बारे में बताऊंगा । आज के इस आर्टिकल में हम आप को बताएंगे कि रचना के आधार पर वाक्य के कितने भेद होते हैं – rachna ke aadhar par vakya ke kitne bhed hote hain । इसके अलावा आज के इस आर्टिकल में हम यह भी बताएंगे कि वाक्य किसे कहते हैं । अगर आप भी वाक्य के बारे में जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को पूरा पड़े । क्युकी आज के इस आर्टिकल में हम आप को वाक्य के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से बताएंगे , इसलिए आप इस आर्टिकल को पूरा पड़े । तो चलिए करते हैं आज का आर्टिकल स्टार्ट –

रचना के आधार पर वाक्य के कितने भेद होते हैं

वाक्य किसे कहते हैं –

वाक्य को हिंदी कि आत्मा कहा जाता हैं । अगर आप को वाक्य का पता नहीं , कि वाक्य किसे कहते हैं तो आप हिंदी के बारे में कुछ नहीं जानते हैं । इसके अलावा अगर आप हिंदी भाषा को सीखना चाहते हैं समझना करते हैं , तो आप को वाक्य के बारे में जानना अनिवार्य हैं । हिंदी भाषा में जब कुछ भी बोला जाता हैं , या लिखा जाता हैं तो वो वाक्य के रूप में ही बोला जाता हैं और लिखा जाता हैं । इसलिए आप का वाक्य के बारे में जानना अनिवार्य हैं ।

” जब शब्द व्याकरण के नियमो से बंधे हो और पूर्ण अर्थ प्रकट करते हो तो वह वाक्य कहलाते हैं । “

जब भी हम किसी बात को लिखते या बोलते हैं ओर उसका कोई अर्थ निकाल हैं और अगर वह व्याकरण के नियमो के अनुशार हो तो वह वाक्य कहलाता हैं । आम तौर पर जब हम किसी से बात करते हैं या कुछ लिखते हैं तो यह सब कुछ वाक्य के अंतर गत ही आता हैं । वाक्य के बिना हिंदी का कोई अस्तित्व नहीं है । हिन्दी वाक्य से और वाक्य हिन्दी से हैं । अतः हिंदी को सीखने के लिए या समझने के लिए आप को वाक्य को समझना अनिवार्य हैं ।

वाक्य को समझना से पहले आप को व्याकरण को समझना पड़ता हैं । व्याकरण को आप बहुत आसानी से सीख सकते हैं । व्याकरण के नियमो से ही वाक्य बनता हैं इस लिए आप का व्याकरण का भी जानना जरूरी हैं । अगर आप व्याकरण को समझना चाहते हैं कि व्याकरण किसे कहते हैं और व्याकरण के कितने भेज होते हैं तो उसके बाद आप हमारे नीचे दिए गए आर्टिकल को पूरा पड़े ।

व्याकरण किसे कहते हैं ? व्याकरण के कितने भेद होते हैं ।

रचना के आधार पर वाक्य के कितने भेद होते हैं – rachna ke aadhar par vakya ke kitne bhed hote hain –

वाक्य किसे कहते हैं और व्याकरण किसे कहते , व्याकरण के कितने भेद होते हैं इनके बारे में तो अभी हमने आप को बताया हैं , लेकिन क्या आप जानते वाक्य के भी परकार होते हैं । और क्या आप को पता है वाक्य के कितने प्रकार होते हैं । अगर आप को वाक्य के कितने प्रकार होते हैं इस बारे में कोई जानकारी नहीं है तो कोई बात नहीं , आप आज के इस आर्टिकल को पूरा पड़े , इसमें आप को हम वाक्य के प्रकार के बारे में सब कुछ विस्तार से व सरल शब्दों में बताएंगे ।

रचना के आधार पर वाक्य के तीन भेद होते हैं –

1. सरल वाक्य

2 . संयुक्त वाक्य

3 . मिश्र वाक्य या मिश्रित वाक्य

वर्णन =:

1 . सरल वाक्य -;

” जिस वाक्य मे एक ही मुख्य क्रिया हो उन्हे सरल वाक्य कहते हैं । ”

उदाहरण –

1) – बच्चे लिख रहे हैं ।

2) – लड़के खेल रहे हैं ।

2 . संयुक्त वाक्य -;

” जिन वाक्यों को योजना शब्द से जोड़ा जाता हैं , उन्हे संयुक्त वाक्य कहते हैं । “

उदाहरण –

1) – राम स्कूल गया और लौट आया ।

2) – वे बीमार हैं अतः आने में असमर्थ हैं ।

3 . मिश्र वाक्य या मिश्रित वाक्य -;

” जहा एक ही मुख्य वाक्य हो और अन्य वाक्य उस वाक्य पर आश्रित हो , मिश्र वाक्य या मिश्रित वाक्य कहलाते हैं । ”

उदाहरण –

1) – यदि में मेहनत करता तो सफल हो जाता ।

2) – अगर तुम आते तो हमे अच्छा लगता ।

निष्कर्ष –

दोस्तो आज के इस आर्टिकल में हमने आप को वाक्य के बारे में बताया हैं । आज के इस आर्टिकल में हमने आप को बताया हैं कि वाक्य किसे कहते हैं । इसके अलावा आज के इस आर्टिकल में हमने आप को यह भी बताया हैं कि रचना के आधार पर वाक्य के कितने भेद होते हैं – rachna ke aadhar par vakya ke kitne bhed hote hain । इन सब के आलावा इस आर्टिकल में हमने आप को व्याकरण के बारे में भी बताया हैं । और वाक्य के कितने प्रकार होते है इसको उदाहरण के साथ विस्तार से बताया हैं ।

वाक्य का हिंदी में बहुत महत्व पूर्ण भूमिका निभाता हैं । हिंदी में जब भी हम कुछ लिखते हैं या बोलते है और अगर हमने द्वारा बोला गया या लिखी गई कोई पंक्ति का कोई अर्थ निकलता हैं तो वह वाक्य कहलाता हैं । वाक्य व्याकरण के नियमो से बंधा होता हैं । इस आर्टिकल में हमने आप को व्याकरण के बारे में भी बताया हैं । वाक्य को जानने के लिए आप को वाक्य को समझना अनिवार्य हैं । वाक्य के तीन प्रकार होते हैं जिनके बारे में हमने आप को विस्तार से बताया हैं ।

तो दोस्तों अगर आपको ये इनफार्मेशन अच्छी लगी है तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों में शेयर करे और इस आर्टिकल को लाइक करे अछि रेटिंग दे तथा निचे कमेंट बॉक्स में क्यूमेंट करे और बताये आपको ये इनफार्मेशन कैसी लगी,तो मिलते अगले ऐसे हे महत्वपुर्ण informative आर्टिकल के साथ तब तक के लिए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.