मस्से वाली बवासीर की दवा – masse wali bawaseer ki dawa

हैलो दोस्तो कैसे है आप सब लोग , में आशा करता हूं कि आप सभी लोग कुशल होंगे । दोस्तो आज के इस आर्टिकल में हम आप को मस्से वाली बवासीर के बारे में बताएंगे । दोस्तो आज के इस आर्टिकल में हम आप को बताएंगे कि मस्से वाली बवासीर की दवा – masse wali bawaseer ki dawa क्या है । अगर दोस्तो आप भी जानना चाहते हैं कि मस्से वाली बवासीर की दवा – masse wali bawaseer ki dawa क्या है तो आप हमारे आज के इस आर्टिकल को पूरा पड़े ।

दोस्तो आज के इस आर्टिकल में हम आप को मस्से वाली बवासीर के बारे में बताएंगे । दोस्तो आज के इस आर्टिकल में हम आप को बताएंगे कि मस्से वाली बवासीर की दवा – masse wali bawaseer ki dawa क्या है ।

इसके अलाव दोस्तो आज के इस आर्टिकल में हम आप को खूनी बवासीर की गारंटी की दवा , खूनी बवासीर की दवा घरेलू उपचार , बवासीर की सबसे अच्छी दवा कौन सी है? , बवासीर के लिए टेबलेट , बवासीर का एलोपैथिक इलाज , दही से बवासीर का इलाज , खूनी बवासीर में परहेज और कपूर से बवासीर का इलाज इन सभी बातों के बारे में विस्तार से बताएंगे । अगर दोस्तो आप भी इन सभी विषयों के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं तो आप हमारे आज के इस आर्टिकल को पूरा पड़े । तो चलिए करते हैं आज के इस आर्टिकल को स्टार्ट –

मस्से वाली बवासीर की दवा

मस्से वाली बवासीर की दवा – masse wali bawaseer ki dawa

दोस्तों आज हम एक ऐसी बीमारी के बारे में बात करेंगे , जिसको लोग बताने में शर्मिंदगी महसूस करते हैं । जी हां आज हम बात कर रहे हैं एक पीड़ादायक बीमारी जिसका नाम है बवासीर । दोस्तों आजकल हमारी लाइफ स्टाइल ऐसी हो गई है कि हमें बवासीर बीमारी को बताने में तो शर्म आती हैं , लेकिन यह बीमारी एक आम बीमारी बनती जा रही है । बवासीर का प्रमुख कारण पानी का कम पीना , दिनचर्या और अनियमित खानपान ।

वैसे दोस्तों मैं आपको बता दूं कि बवासीर दो प्रकार की होती हैं एक खूनी बवासीर और दूसरी मस्से वाली बवासीर । खूनी बवासीर में मल त्याग करते समय मल के साथ खून आता है और असहनीय जलन भी होती हैं । जबकि मस्से वाली बवासीर में खुदा के बाहर सूजन होती हैं और बहुत ही ज्यादा जलन भी होती हैं । अगर आप भी इस बीमारी से ग्रसित हैं तो आप हमारे आज के इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें , क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम आपको ऐसे घरेलू उपाय बताएंगे , जिसके नियमित इस्तेमाल से आपकी बरसों पुरानी बवासीर ठीक हो जाएगी ।

दोस्तों बवासीर को करने के घरेलू उपाय में सबसे असरदार जीरे को माना जाता है । दोस्तों आपको 2 लीटर छाछ में 50 ग्राम जीरा और थोड़ा सा नमक मिला लेना है । वह दिन भर में आपको जितनी भी बार प्यास लगे , तो आपको इस छाछ वाले पानी को पीना है । अगर दोस्तों आप इस जीरे और छाछ के पानी का 1 सप्ताह तक लगातार इस्तेमाल करते हो , तो आपको बहुत ही ज्यादा फर्क नजर आएगा अपने आवासी की बीमारी में ।

खूनी बवासीर की गारंटी की दवा –

खूनी बवासीर के लिए सबसे असरदार और सबसे सटीक उपचार Dr Piles Free को माना जाता है । अधिकतर डॉक्टर खूनी बवासीर या किसी अन्य बवासीर के लिए भी Dr Piles Free के इस्तेमाल की ही सलाह देते हैं । Dr Piles Free आयुर्वेदिक औषधियों से बनाई जाती हैं , जो आपकी बवासीर से लड़ने में मदद करती है और जल्दी आपको बवासीर की बीमारी से राहत मिलते हैं ।

Read More -; मुंह के छाले की टेबलेट नाम – munh ke chhale kee tebalet naam

खूनी बवासीर की दवा घरेलू उपचार –

खूनी बवासीर के लिए स्वामी रामदेव जी का मानना है कि ठंडे दूध में नींबू डालकर उसे तुरंत पीने से खूनी बाबा से ठीक होता है । स्वामी रामदेव जी के अनुसार यह सबसे अच्छा घरेलू नुस्खा है , बवासीर को ठीक करने का । दूध के अंदर कहीं ऐसे औषधीय गुण पाए जाते हैं , जो बवासीर को ठीक करने के लिए सबसे कारगर माने जाते हैं ।

बवासीर की सबसे अच्छी दवा कौन सी है? –

बवासीर के लिए डॉक्टरों के द्वारा पसंद की जाने वाली सबसे अच्छी दवा Dr Piles Free हैं । अधिकतर डॉक्टर बवासीर के दौरान Dr Piles Free इस्तेमाल करने के लिए सलाह देते हैं । Dr Piles Free एक कीट आता है , जिसके अंदर ऑयल , कैप्सूल और पाउडर तीनों प्रकार के मेडिसिन होते हैं ।

Read More -; शरीर में कितना खून होना चाहिए – Sharir Mein Kitna Khoon Hona Chahie

बवासीर के लिए टेबलेट –

Himalaya pilex forte बवासीर के लिए सबसे अच्छी टेबलेट मानी जाती हैं । इस टेबलेट में कई ऐसे दवाइयां मिलाई जाती है , कई ऐसे पदार्थ मिलाए जाते हैं जो बवासीर को ठीक करने में काफी कारगर साबित होते हैं । लेकिन दोस्तों आपको इस टेबलेट का इस्तेमाल डॉक्टर की सलाह पर ही करना है , क्योंकि इसमें कुछ ऐसे तत्व भी मिलाए जाते हैं , जो प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए नुकसानदायक हो सकते हैं । इसलिए एक बार Himalaya pilex forte टेबलेट का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर ले ।

बवासीर का एलोपैथिक इलाज –

बवासीर या अन्य किसी भी बीमारी का सबसे बड़ा कारण होता है , कब्ज । कब्ज होने से पेट खराब हो जाता है , खाना बच्चे से नहीं पता है । लगभग 90 % बीमारियों की वजह कब्ज ही होता है । इसलिए सबसे पहले कब्ज को ठीक करें । जिससे कि बवासीर भी ठीक हो सके । बवासीर को ठीक करने के लिए अशोक फूल का सेवन कर सकते हैं । इसके अलावा एक गिलास पानी में एक चम्मच जीरा पाउडर डालकर हर रोज पी सकते हैं , और पानी को सेवन ज्यादा से ज्यादा करना है जिससे कि बवासीर की बीमारी को जल्दी से ठीक किया जा सके ।

Read More -; किडनी के रोगियों के लिए रामबाण प्रयोग – Kidney Ke Rogiyon Ke Lie Raamabaan Prayog

दही से बवासीर का इलाज –

दही मैं कई सारे प्रोटीन , विटामिन व कार्बोहाइड्रेट पाए जाते हैं । जो कि शरीर को स्वस्थ रखने में काफी मदद करते हैं । जिन लोगों को कब्ज , एसिडिटी या अन्य कोई पाचन से संबंधित समस्याएं हो तो उन्हें दही का इस्तेमाल पर रोज करना चाहिए । दही के साथ अजवाइन या जीरे का सेवन करके कब्ज और बवासीर को जड़ से मिटाया जा सकता है । कब्ज और बवासीर को मिटाने के लिए दही सबसे अच्छा घरेलू नुस्खा है । छाछ में भी जीरा मिलाकर पीने से बवासीर को ठीक किया जा सकता है ।

खूनी बवासीर में परहेज –

बवासीर का सबसे बड़ा कारण खाने का सही तरह से नहीं पूछना है । खूनी बवासीर को ठीक करने के लिए सबसे ज्यादा डाइट पर ही ध्यान देना चाहिए । अगर आपकी डाइट सही होगी तो आप जल्दी से जल्दी बवासीर को ठीक कर पाएंगे । बवासीर के दौरान आपको तली चीजों को बिल्कुल ही नहीं खाना चाहिए । इसके अलावा चिकन – मटन नहीं खाना चाहिए , लेकिन आप मछली खा सकते हैं , क्योंकि मछली में फाइबर और विटामिन दोनों होते हैं । आपको बवासीर के दौरान ज्यादा से ज्यादा पानी पीना है । धूम्रपान , तंबाकू और शराब का सेवन तो आपको बिल्कुल भी नहीं करना है ।

Read More -; शुगर में पनीर खाना चाहिए या नहीं – Sugar Mein Paneer Khana Chahie Ya Nahin

कपूर से बवासीर का इलाज –

कपूर से बाबासीर का इलाज संभव है । लेकिन दोस्तों ध्यान रहे कि आपको देसी कपूर लेना है , जलाने वाला कपिल नहीं लेना है । आपको 1 दिन में एक छोटे चने जितना ही कपूर लेना है । दोस्तो आप कपूर को केले के साथ ले सकते हैं , सुबह फ्रेश होने के बाद । दोस्तों अगर आप लगातार 2 से 3 दिन तक कपूर और केले का इस्तेमाल करते हो , तो आपको बाबासीर की बीमारी में काफी हद तक फायदा नजर आएगा ।

निष्कर्ष –

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने मस्से वाले बवासीर के बारे में बताया है । दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने आपको बताया है कि मस्से वाली बवासीर की दवा – masse wali bawaseer ki dawa क्या है । इसके अलावा भी दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने आपको बवासीर से संबंधित अन्य कई सारी जानकारियो के बारे में बताया है ।

दोस्तों बवासीर एक ऐसी बीमारी है , जिसे लोग अक्सर बताने में शर्मिंदगी महसूस करते हैं । लेकिन यह बीमारी एक आम बीमारी का रूप लेती जा रही है । बवासीर का प्रमुख कारण पेट का ठीक से कार्य न करना । पेट में गैस , एसिडिटी या कब्ज के कारण बवासीर होती हैं । इसलिए पेट को ठीक रखना है सबसे बढ़िया उपाय हैं , बवासीर को ठीक करने का । अधिकतर बीमारी का सबसे बड़ा कारण पाचन तंत्र का सही से काम नहीं करना है । इसलिए पाचन तंत्र को सही रखना ही सबसे पहला कार्य है , जिससे कि कई सारी बीमारी दूर रहती है ।

तो दोस्तों अगर आपको ये इनफार्मेशन अची लगी है तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों में शेयर करे और इस आर्टिकल को लाइक करे अछि रेटिंग दे तथा निचे कमेंट बॉक्स में क्यूमेंट करे और बताये आपको ये इनफार्मेशन कैसी लगी,तो मिलते अगले ऐसे हे महत्वपुर्ण informative आर्टिकल के साथ तब तक के लिए… धन्यवाद् !!!

Leave a Reply

Your email address will not be published.