गले की टीबी के लक्षण – gale ki TB ke lakshan

हैलो दोस्तो कैसे है आप सब लोग , मैं आशा करता हूं कि आप सभी लोग कुशल होंगे । दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम टीबी (TB) के बारे में बात करेंगे । दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको गले की टीबी के लक्षण – gale ki TB ke lakshan बताएंगे । अगर दोस्तों आप भी गले की टीबी के लक्षण – gale ki TB ke lakshan जानना चाहते हैं तो आप हमारे आज के इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़ें ।

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम टीबी (TB) के बारे में बात करेंगे । दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको गले की टीबी के लक्षण – gale ki TB ke lakshan बताएंगे ।

इसके अलावा दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको दिमाग की टीबी के लक्षण , अंडा और टीबी , आंतो की टीबी के लक्षण और उपचार , क्या टीबी का इलाज संभव है , बच्चों में टीबी के लक्षण , टीबी के लिए टेस्ट , टीबी के मरीजों की दवा और टीबी की गांठ कैसी होती है इन सब के बारे में बताएंगे । अगर दोस्तों आप भी इन सभी विषयों के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं तो आप हमारे आज के इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़ें । तो दोस्तों चलिए शुरू करते हैं , आज का शानदार आर्टिकल स्टार्ट –

गले की टीबी के लक्षण – gale ki TB ke lakshan

गले की टीबी के लक्षण – gale ki TB ke lakshan

टीबी एक संक्रमण रोग है , जो बैक्टीरिया के कारण होता हैं । बैक्टीरिया आम तौर पर हवा के माध्यम से शरीर में जाता हैं , इसी कारण ज्यादातर टीबी फेफड़ों को ही हानि पहुंचाता हैं । टीबी का पाता सुरुआती दिनों में नही चलता है , क्युकी टीबी बहुत धीरे – धीरे पुरे शरीर में फैलता हैं । इसीलिए टीबी का पता लगने में कुछ महीने या साल भर भी लग जाता हैं ।

एक रिसर्ज के अनुसर दुनिया में लगभग एक चौथाई लोग टीबी से संक्रमित हैं । इसके अलावा दुनिया भर में करीबन 13 लाख लोग हर साल टीबी से मरते हैं । जिनमे से करीबन 10 से 15 फीसदी लोग ही सक्रिय टीबी से संक्रमित होते हैं । बाकी लोगो को पाता ही नही चलाता है कि उन्हें टीबी हैं , लेकिन जब टीबी ज्यादा बड़ जाति है तब वह डॉक्टर के पास जाते हैं , लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी होती हैं ।

गले की टीबी के शुरुआती दिनों में तो कुछ लक्षण नहीं दिखाई देते हैं , लेकिन जब वह धीरे-धीरे बढ़ने लगते हैं तब , भूख ना लगना , रात को ज्यादा गर्मी लगना , रात को पसीना आना , सिर दर्द , सास ना आना , वजन घटना , जुखाम , कभी – कभी हल्का बुखार और लगातार तीन चार हफ्तों से खांसी चलना यह सभी लक्षण दिखाई देते हैं । अगर दोस्तों आप को भी इनमे से कोई भी प्रोब्लम एक लम्बे समय से हैं तो आप को तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए , ताकि अगर आप को भी टीबी जेसी कोई बिमारी हो तो उसका समय रहते उपचार किया जा सके ।

दिमाग की टीबी के लक्षण –

दिमाग की टीबी के लक्षण शुरुआती दौर में नहीं दिखाई देते हैं । ब्रेन यानी कि दिमाग की टीबी के लक्षण शरीर में धीरे-धीरे आते हैं । शुरुआत के दिनों में टीबी के अंदर पेशेंट को बेहोशी , सिर दर्द बने रहना , चक्कर आना , थकान महसूस होना , हल्का – फुल्का बुखार रहना , उल्टी , अलसी पन और चिड़चिड़ा रहना ऐसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है । लेकिन यह समस्याएं दिनों दिन बढ़ती जाती है । ऐसे समय में आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए और अपनी प्रॉब्लम को खुल करके बताना चाहिए , जिससे कि आप का उपचार शुरू किया जा सके ।

अंडा और टीबी –

टीवी के दौरान शरीर काफी कमजोर पड़ जाता है , जिसकी वजह से वजन भी घटने लगता है । वजन को मेंटेन रखने के लिए वह शरीर को पोषक तत्व देने के लिए अंडे का सेवन करना चाहिए । अंडे में भरपूर मात्रा में प्रोटीन , विटामिन , विटामिन b12 आदि कई सारे पोषक तत्व होते हैं , जो हमारे शरीर को स्वस्थ और वजन को सामान बनाए रखने में काफी हद तक मदद करते हैं ।

Read More -; चेहरे पर छोटे छोटे दाने हटाने के उपाय – Chehre Par Chhote Chhote Dane Hatane Ke Upay 

आंतों की टीबी के लक्षण और उपचार –

आंतों की टीबी के दौरान पेशेंट को दस्त लगना , कब्ज होना , मल में खून का आना , वजन घटना , हल्का बुखार आना , लगातार दो तीन से खासी चलना आदि कई सारी प्रॉब्लम आते हैं । आंतों की टीबी के उपचार के लिए सबसे बेहतरीन उपाय यही है , कि आप तुरंत से तुरंत अपने डॉक्टर के पास जाए और उसकी सलाह के अनुसार अपना उपचार शुरू करवाएं ।

क्या टीबी का इलाज संभव है –

जी हां दोस्तों टीबी का इलाज संभव है । लेकिन दोस्तों सिर्फ दवाइयां के इस्तेमाल से टीबी को ठीक करना लगभग असंभव सा है । दवाइयों के साथ-साथ आपको प्रतिदिन एक से डेढ़ घंटे तक रोजाना योग या एक्सरसाइज करनी चाहिए । इसके अलावा अपने खानपान पर भी ध्यान देना चाहिए । खाने में अंडा , दूध , मछली , सोयाबीन आदि ऐसी चीजों का इस्तेमाल करना चाहिए , जिससे कि आपका वजन बड़े । अगर आप इन सारे प्रोटोकॉल को फॉलो करते हैं , तो निश्चित ही टीबी का इलाज संभव है ।

Read More -; दिल मजबूत करने की आयुर्वेदिक दवा – Dil Majaboot Karane Ki Aayurvedik Dava

बच्चों में टीबी के लक्षण –

बच्चों में टीबी के लक्षण कुछ खास नहीं दिखाई देते हैं । लेकिन अगर बच्चों को लगातार दो से 3 हफ्ते से हल्का बुखार , वजन कम पढ़ना , चिड़-चिड़ापन , बलगम आना आदि कई सारे लक्षण दिखाई दे तो आपको एक बार टीबी की जांच अवश्य करवा लेनी चाहिए । और अगर आपके घर में कोई भी व्यक्ति टीबी से संक्रमित हैं और बच्चों में यह संकेत दिखाई दे , तो आपको निश्चित ही टीबी की जांच करवानी चाहिए ।

टीबी के लिए टेस्ट –

टीबी की जांच के लिए AFB microscopy , CBNAAT , FNAC , Biopsy , Culture of the bacteria , X- Rays test , Mantoux Test and TB gold आदि कई सारे टेस्ट किए जाते हैं । ये सभी टेस्ट अलग – अलग परिस्थितियों में किए जाते हैं । इसके अलावा अलग – अलग टीबी की बीमारियों के लिए किए जाते हैं ।

Read More -; हाई ब्लड प्रेशर में दूध पीना चाहिए – High Blood Pressure Mein Doodh Pina Chahie

टीबी के मरीजों की दवा –

टीवी के मरीजों के लिए स्पेशल दवाई दी जाती हैं , जिससे अधिकतर लोग इसे इजी क्योर 99 DOTS के नाम से जानते हैं । इस दवाई को दो अलग-अलग हिस्सों में दी जाती हैं । पहले लाल पैकेट में दवाई दी जाती है । उसके बाद फिर जांच की जाती है और उस आधार पर दोबारा दवाई दी जाती है । अधिकतर यह दवाई वजन के आधार पर दी जाती है । बिना डॉक्टर की सलाह पर इस दवाई का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए ।

निष्कर्ष –

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने टीबी (TB) के बारे में बात की है । दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने आपको गले की टीबी के लक्षण – gale ki TB ke lakshan क्या क्या होते हैं , इसके बारे में बताया है । इसके अलावा भी दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने आपको टीबी से संबंधित अन्य कई महत्वपूर्ण जानकारियों के बारे में बताया है ।

दोस्तों टीबी से हर साल करीबन पूरी दुनिया में 13 लाख लोगों मरते हैं । जिनमें से कई सारे लोगों को शुरुआती दौर में पता नहीं चलता है , कि उनको टीबी है । इसलिए टीबी पर ध्यान देना व इसके लक्षणों को पहचानना अत्यंत आवश्यक है । ताकि इसका समय पर उपचार किया जा सके । दोस्तों किसी भी टीबी की दवाई का उपयोग करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए । टीबी के इलाज के लिए भारत के सरकारी अस्पतालों में विशेष इंतजाम किए गए हैं , जिनका आप पूरा से पूरा लाभ उठाएं और अपनी टीबी की बीमारी को दूर भगाएं ।

तो दोस्तों अगर आपको ये इनफार्मेशन अची लगी है तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों में शेयर करे और इस आर्टिकल को लाइक करे अछि रेटिंग दे तथा निचे कमेंट बॉक्स में क्यूमेंट करे और बताये आपको ये इनफार्मेशन कैसी लगी,तो मिलते अगले ऐसे हे महत्वपुर्ण informative आर्टिकल के साथ तब तक के लिए… धन्यवाद् !!!

Leave a Reply

Your email address will not be published.